विश्वनाथन आनंद | Viswanathan Anand Biography In Hindi

विश्वनाथन आनंद | Viswanathan Anand Biography In Hindi

पूरा नाम –  विश्वनाथन आनंद ( विष्य )
जन्म      –   11 दिसम्बर 1969 ( Viswanathan Anand Date Of Birth )
जन्मस्थान – मयिलादुठुरै, तमिलनाडु
पिता     –    विश्वनाथन अय्यर
माता     –   सुशीला
विवाह   –   अरुणा आनंद

Viswanathan Anand Biography

विश्वनाथन आनंद भारतीय शतरंज खिलाडी, अंतरराष्ट्रीय ग्रेंडमास्टर एवम पूर्व विश्व शतरंज चैंपियन है.

विश्वनाथन आनंद का जन्म 11 दिसम्बर 1969 को मयिलादुठुरै, तमिलनाडु में हुआ. और जन्म होने के कुछ समय बाद ही उनका परिवार मद्रास (अभी का चेन्नई) चला गया, जहा वो बड़े हुए. उनके पिता विश्वनाथन अय्यर, दक्षिणी रेलवे के सेवानिर्वुत्त सामान्य प्रबंधक थे, उन्होंने जमालपुर बिहार में अपनी शिक्षा प्राप्त की, और उनकी माता सुशीला एक गृहिणी और शतरंज की प्रशिक्षक और प्रभावशाली समाज सुधारक थी. आनंद अपनी 6 साल की आयु से अपनी माता और नजदीकी रिश्तेदार दीपा रामकृष्णन से शतरंज सिख रहे थे.

आनंद ने अपनी पढाई डॉन बोस्को मैट्रिकुलेशन हायरसेकण्ड्री स्कूल, एग्मोरे, चेन्नई से पूर्ण की और लोयोला कॉलेज, चेन्नई से वाणिज्य (कॉमर्स) स्नातक (ग्रेजुएट) की डिग्री प्राप्त की.

जब विश्व चैंपियनशिप का बटवारा किया जा रहा था, उस समय उन्होंने 2000 से 2002 तक FIDE World Chess Championship का ख़िताब अपने नाम रखा. वह सन 2007 में निर्विवाद विश्व विजेता बने और सन 2008 में उन्होंने अपना ख़िताब व्लाडामीर क्राम्निक से बचाया, तब उन्होंने उसके बाद सफलता से 2010 में अपने विश्व विजेता प्रतियोगिता का ख़िताब हासिल किया जो की वेसेलिन तपोलाव के खिलाफ था और उन्होंने विश्व शतरंज प्रतियोगिता फिरसे 2012 में जीता जो बोरिस गल्फ के खिलाफ था. विश्व शतरंज प्रतियोगिता 2013 में वे मागनुस कार्सलेन के खिलाफ पराजित हुए.
विश्वनाथन आनंद इतिहास के उन 9 खिलाडियों में से एक है जिन्होंने FIDE विश्व शतरंज चैंपियनशिप की सूचि में उसके पुराने रिकॉर्ड को तोडा और पुरे 21 महीनो तक विश्व के नंबर 1 खिलाडी बने रहे. और वे अपने जीवन में 6 दफा इस स्थान पर रहे.
विश्वनाथन आनंद 1988 में भारत के पहिले ग्रेंडमास्टर बने. और 1991-92 में राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार मिलने वाले वे पहले खिलाडी बने, ये भारत का खेल की दुनिया में सबसे बड़ा पुरस्कार था. 2007 में, उन्हें भारत का दूसरा सबसे बड़ा सिविलियन पुरस्कार दिया गया, जिसे पद्म भूषण कहते है, और वे पहले खिलाडी थे जिन्होंने इस पुरस्कार को प्राप्त किया.

वैयक्तिक जीवन – About Viswanathan Anand In Hindi

अगस्त 2010 में, भारत की सुशिल और होनहार खिलाडियों को प्रोत्साहित और आगे बढ़ने में मदत करने वाली ओलिंपिक गोल्ड चैंपियनशिप के संचालन में शामिल हुए. दिसम्बर 2010 में वे गुजरात यूनिवर्सिटी के मैदान के आदरणीय महेमान थे, जहा 20,486 खिलाडियों ने एक साथ एक ही जगह पर शतरंज खेलकर एक नया विश्व रिकार्ड स्थापित किया.
विश्वनाथन आनंद की रूचि पड़ने, स्विमिंग करने और गाने सुनने में थी. उनकी शादी अरुणा आनंद से हुई और 9 अप्रैल 2011 को उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया, जिसका नाम अखिल आनंद है.

आनंद को एक सम्माननीय ख्याति प्राप्त निरहंकारी व्यक्ति के नाम से जाना जाता है जिन्होंने राजनीती और कई मनोवैज्ञानिको से दूर रहकर सतत अपने खेल में अपना ध्यान लगाया. उनके इसी तरह के प्रयास ने पिछले 2 दशको से पुरे विश्व में कई सारे रिकार्ड्स भी बनाये, जिसके कई गवाह भी है जैसे गेर्री कास्परोव, व्लाडामीर क्राम्निक और मागनस कार्लसन, जिनका कई बार विश्व चैंपियन में आनंद के साथ सामना हुआ और हर बार उन्हें हार झेलनी पड़ी, उनको उनके इन सारे प्रयासों ने ही उन्हें 2010 का विश्व चैंपियन बनाया. आनंद को “मद्रास का टाइगर” भी कहा जाता है.

Note :-  आपके पास About Viswanathan Anand In Hindi मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. धन्यवाद… कुछ महत्त्व पूर्ण जानकारी Biography Of Viswanathan_Anand के बारे में Wikipedia ली गयी है.
अगर आपको Life History Of Viswanathan Anand In Hindi language अच्छी लगे तो जरुर हमें WhatsApp status और Facebook  पर Like कीजिये.
E-MAIL Subscription करे और पायें Essay With Short Biography About Viswanathan Anand In Hindi And More New Article… आपके ईमेल पर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here