शेयर बाजार का बादशाह राकेश झुनझुनवाला | Rakesh Jhunjhunwala Story

शेयर बाजार का बादशाह राकेश झुनझुनवाला / Rakesh Jhunjhunwala Story

“बाय राईट एंड होल्ड टाइट”

 

शेयर बाजार का बादशाह राकेश झुनझुनवाला / Rakesh Jhunjhunwala Story
शेयर बाजार का बादशाह राकेश झुनझुनवाला / Rakesh Jhunjhunwala Story

राकेश झुनझुनवाला शेयर बाजार में काफी सालो से काम कर रहें है और इस शेत्र में उनका नाम बहुत आदर से लिया जाता है, काफी कम पैसो से उन्होंने अपने करियर की शुरवात की थी और कुछ सालो में अपनी अप्पर मेहनत और असामन्य बुद्धिमत्ता से बहुत बड़ा व्यापर खड़ा किया. और आज उन्हें शेयर बाजार में काम करने वाले लोग अपना गुरु मानते है.

राकेश झुनझुनवाला एक भारतीय निवेशक और व्यापारी है. उन्होंने चार्टर्ड अकाउंटेंट की पढाई की है. और उनकी कंपनी रेयर एंटरप्राइज को एक सहयोगी की तरह संभाल कर रखा है, झुनझुनवाला को इंडिया टुडे पत्रिका ने “Pin-up Boy of the Current Bull Run”और इकनोमिक टाइम्स पत्रिका ने “Pied Piper of Indian Bourses” कहकर सम्मानित किया.

राकेश झुनझुनवाला भारत के शहर मुंबई में ही बड़े हुए, जहा उनके पिता आयकर विभाग में आयकर ऑफिसर का काम किया करते थे. Sydenham College से वे ग्रेजुएट हुए और फिर बाद में उन्होंने खुद को इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ़ इंडिया में दाखिल किया.
राकेश झुनझुनवाला Aptech Limited और हंगामा डिजिटल मीडिया एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन है और बहोत सी भारतीय कंपनिया जैसे प्राइम फोकस लिमिटेड, गोजित BNP परिबास फाइनेंसियल सर्विस लिमिटेड, बिलकेयर लिमिटेड, प्राज इंडस्ट्रीज लिमिटेड, प्रोवोगुए इंडिया लिमिटेड, कांकोर्ड बायोटेक लिमिटेड, Innovasynth Technologies (I) Limited, मिड डे मल्टीमीडिया लिमिटेड, नागार्जुन कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड, वाइसराय होटल्स लिमिटेड और टॉप्स सिक्यूरिटी लिमिटेड के वे बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर भी रह चुके है.

झुनझुनवाला के स्टॉक दिसम्बर 2011 में निचे उतर गये थे. लेकिन उन्होंने अपने नुकसान की भरपाई फेब्रुअरी 2012 में कर ली. इस तरह अपने व्यापर में बार-बार उतार चढाव आने से उन्होंने अपने तीसरे समूह को बढ़ाने की बजाये कम किया.

झुनझुनवाला को हर्शद मेहता के दिनों का काफी कुछ सहना पड़ा था और उनका हमेशा से ही ऐसा मानना था की निवेशक को हमेशा गिरगिट की तरह होना चाहिये. युवा उद्योगपति राकेश झुनझुनवाला को लोग प्रेरित करने वाले लोगो की सूचि में रखते है. काफी लोग निवेश करते समय उन्हें देखकर प्रेरित होते है. वे हमेशा से कहते थे की निवेश करते समय निवेशक का खुद पर भरोसा होना बहोत जरुरी है.

राकेश झुनझुनवाला का यह कहना है की, शेयर बाज़ार में तेज़ी सबका फायदा होता है और मंदी में सबका नुकसान होता है, इसीलिए यह मायने नही रखता की मै वैश्विक कुबेरों की सूचि में शामिल हुये या नही. मेरा बिज़नस मन्त्र बहोत आसान है, “बाय राईट एंड होल्ड टाइट” यानी सही समय पर सही शेयर ख़रीदे और उसे जकड कर रखे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here