Home / Motivational Stories / Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story

Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story

Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story

हाथ नहीं हैं हमारे, फिर भी सपनों की पतंग उड़ाएंगे, 
हो चाहे कोई भी मुश्किल जहां में, अपने नाम का भी झंडा फरहाएंगे’.

Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao

 

भगवान ने भले ही इन्हें हाथों की लकीर न दी हो, लेकिन इन्होंने अपनी किस्मत की लकीर अपने पैरों से ही लिख डाली. बचपन हाथ न होने के बावजूद भी इन्हें पढ़ने की ललक सवार थी, बोर्ड एग्जाम के दौरान ही इन्होंने टीचर बनने की सोच रखी थी. आज इनका सपना पूरा भी हो गया. ग़ज़बपोस्ट झारखंड से एक ऐसी वीरांगना की कहानी लाया है जिसे पढ़ कर आप भी इन पर गर्व महसूस करेंगे.

137548889 Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao
जन्म से ही दोनों हाथों के न होने की वजह से बसंती के कई अरमानों पर पानी फिर रहे थे. बढ़ती उम्र के साथ ही बसंती की भी स्कूल जाने की इच्छा थी, पर हाथ बीच में बाधा बन रही थी. इसी बीच बसंती स्कूल जाने की जि़द करने लगी. उनकी जिद के आगे उनके पैरेंट्स को झुकना पड़ा और छह वर्ष की उम्र में पास के स्कूल में भेजना शुरू किया.

बचपन से ही आत्मनिर्भर बनने की थी इच्छा

बसंती स्कूल जाती तो थी लेकिन दोनों हाथ न होने की वजह से वो अपना होमवर्क नहीं कर पाती थी. ऐसे में वो चुप रहने लगी. बाद में हिम्मत ना हारते हुए पढ़ाई के अपने पैरों का इस्तेमाल हाथ के रूप में करने लगी. बसंती के अंदर बचपन से ही अपने को आत्मनिर्भर बनने की इच्छा थी.
541073620 Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao

फैमिली सपोर्ट के लिए बसंती ने ट्यूशन पढ़ाना शुरू कर दिया

पिता माधव सिंह के रिटायरमेंट के बाद घर चलाने की जिम्मेदारी बसंती के कंधों पर आ गई. घर चलाने के लिए दोनों हाथों से लाचार बसंती ने शिक्षक बनने की ठानी. मैट्रिक पास करने के बाद ही बसंती ने ट्यूशन पढ़ाना शुरू कर दिया. इसके बाद वर्ष 2005 में उसने सिंदरी स्थित रोड़ाबांध उत्क्रमित मध्य विद्यालय में पारा शिक्षक के रूप में ज्वाइन किया.
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
455734459 Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao

ब्लैक बोर्ड पर भी पैरों से ही लिखती हैं

बसंती सिर्फ कॉपी पर ही नहीं, बल्कि स्कूल के ब्लैक बोर्ड पर भी पैरों से ही लिखती है. इसके साथ ही प्रत्येक दिन कक्षा के सभी बच्चों की कॉपी जांचना और उन्हें होम वर्क देने का काम भी बसंती अपने पैरों से ही करती है. बसंती ने बताया कि बचपन से उन्हें अपनी पढ़ाई के दौरान भी कॉपी पर पैरों से लिखने की आदत हो गई थी.
635667535 Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao

10 सालों से स्कूल में बच्चों को पढ़ा रही हैं

2005 में प्राइमरी स्कूल ज्वाइन करने के बाद बसंती बच्चों को लगातार 10 सालों से पढ़ाती आ रही हैं. हालांकि, ब्लैक बोर्ड पर लिखना उनके लिए बड़ी चुनौती बन गई थी, लेकिन कुछ दिनों के अभ्यास और शरीर का नियंत्रण बनाने के बाद अब उन्हें ब्लैक बोर्ड पर भी लिखने में कोई परेशानी नहीं होती है.
315232159 Basanti, Para Teacher, Jharkhand Hindi Motivational Story
Basanti, Para Teacher, Jharkhand Beti Bachao Beti Padhao

 

तो दोस्तों अब बारी है आपके comments की, ये आर्टिकल आपको कैसा लगा comment के जरिये जरूर बताएं। आपके कमेंट से हमें प्रेरणा मिलती है और अच्छा लिखने की…… धन्यवाद !!!
अगर आपके‌ पास भी कोई हिंदी में लिखा हुआ प्रेरणादायक, प्रेरक, कहानी, कविता,  सुझाव  या ऐसा कोई लेख जिसे पढ़कर पढ़ने वाले को किसी भी प्रकार का मार्गदर्शन या फायदा पहुंचता है और आप उसे Share करना चाहते है तो आप अपनी फोटो और नाम के साथ हमें ईमेल करें। हमारी Email ID है  achhiduniya3@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम व फोटो के साथ अपनी वेबसाईट पर प्रकाशित करेंगें।

Advise- share this post to your friends and you can also use (quotes and pictures)  as  facebook status and whatsapp status

 Follow us for inspiring life changing posts

hindi inspiring stories entrepreneurs
successful businessman stories in hindi
indian entrepreneur story
top businessman success story
success stories of indian businessman in hindi
how to become a successful businessman in hindi
success businessman story in hindi pdf
indian entrepreneurs biographies
success man story in hindi
motivational story in hindi for success
short motivational story in hindi language
success stories in hindi pdf
success businessman story in hindi
real success story in hindi
motivational story in hindi for sales team

Check Also

Hindi-quote-on-never-giving-up1-524x288 धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories

धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories

धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories एक साधु शिष्यों के साथ कुम्भ के मेले में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close