Home / Motivational Stories / इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर

इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर

Jorge Dyksen Motivational Story In Hindi : – यह फ़िल्मी सी लगने वाली लेकिन सच्ची कहानी सर्बिया के जोर्ग डायकसन की है।  16 साल के जोर्ग डायकसन अपनी स्कूल की फ़ुटबाल टीम के स्टार खिलाडी है, जबकि उनके दोनों हाथ और दोनों पैर नहीं है।  वे  फ़ुटबाल प्रोस्थेटिक पैरों की मदद से खेलते है।

इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर

wp-1474101586351 इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर
​Jorge Dyksen Motivational Story In Hindi

Jorge Dyksen Motivational Story बचपन में ही गवा दिये थे हाथ पैर :-

जोर्ग डायकसन जब 18 महीने के थे तब उनके शरीर में गंभीर इन्फेक्शन हुआ था। डाक्टरों के इलाज़ के बावजूद भी उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ  और ज्यादा खराब होती गई।  इन्फेक्शन तेज़ी से हाथ-पैरों में फैलने लगा। डाक्टरों के पास जोर्ग की जान बचने के लिए उसके हाथ – पाँव काटने के अलावा कोई और चारा नहीं बचा था और उन्होंने ऐसा ही किया।  मात्र 18 महीने की उम्र में ही जोर्ग अपाहिज हो गए।

wp-1474101617683 इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर
​Jorge Dyksen Motivational Story In Hindi

 माँ – बाप को देना पड़ा गोद :-

विकलांग होने के बाद जोर्ग को विशेष और इलाज़ की  जरूरत थी जिसके लिए बहुत अधिक धन की आवश्यकता थी। चुकी जोर्ग के माता – पिता की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी इसलिए उन्होंने उसे गोद देने का निश्चय किया।  इसके लिए उन्होंने ‘हीलिंग द चिल्ड्रन’ सोसाइटी की मदद ली और उसके मार्फ़त यह बच्चा एक दंपति जान डायक्स और फेये को गोद दे दिया गया।  उस दम्पति ने उसके बेहतरीन इलाज़ और शिक्षण की व्यवस्था की। उसके बड़ा होने पर उन्होंने उसे, उसकी शारारिक अक्षमता से उबरने के लिए फ़ुटबाल खेलने के लिए प्रेरित किया और उसके लिए एक कोच की व्यवस्था की।

wp-1474101663694 इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर
​Jorge Dyksen Motivational Story In Hindi

जोर्ग को शुरूआत में लगा शायद वो नकली पैरों से फ़ुटबाल नहीं खेल पायेगा लेकिन जैसे-जैसे उसने प्रेक्टिस शुरू की उसका आत्मविश्वास बढ़ता गया। खुद के आत्मविश्वास , माता-पिता की प्रेरणा और कोच की कड़ी ट्रेनिंग की बदौलत उसे अपनी स्कूल की फ़ुटबाल टीम में चुन लिया गया और आज वो अपनी स्कूल टीम का एक स्टार खिलाडी है।

Jorge Dyksen Motivational Story In Hindi

Did you like this post on “इच्छाशक्ति का कमाल – बिना हाथ पैरों के बन गया स्टार फ़ुटबाल प्लेयर” Please share your comments.

Like US on Facebook

         

यदि आपके पास Hindi में कोई  article,motivational story, business idea,Shayari,anmol vachan,hindi biography या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें.

हमारी Id है:achhiduniya3@gmail.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे.

click to Read  Hindi Biorgaphy Collection
click to Read  Hindi Quotes collection
click to Read  Hindi Shayaris Collection
click to Read  Hindi Stories Collection
click to Read  Whatsapp Status Collection In Hindi 

Thanks!

Read  Hindi Biorgaphy (जीवनी) Collection  of महापुरुषों की जीवनी ,famous singers,famous personalities of india,famous celebrities and Sports persons.

 

Check Also

Hindi-quote-on-never-giving-up1-524x288 धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories

धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories

धर्म का मर्म Hindi Inspiring Stories एक साधु शिष्यों के साथ कुम्भ के मेले में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close