Home / Biography / शाहरुख खान का जीवन परिचय | Shah Rukh Khan Biography In Hindi

शाहरुख खान का जीवन परिचय | Shah Rukh Khan Biography In Hindi

 

शाहरुख खान का जीवन परिचय | Shah Rukh Khan Biography In Hindi

Shah Rukh Khan, also known as SRK, is an Indian film actor, producer and television personality. Referred to in the media as the “Baadshah of Bollywood”, “King of Bollywood” or “King Khan”.
Height: 1.73 m
Spouse: Gauri Khan (m. 1991)
Children: Suhana Khan, AbRam Khan, Aryan Khan

 

जन्मतिथि – 2 नवंबर, 1965   जन्मस्थान – नयी दिल्ली

Shah Rukh Khan ने रोमैंटिक नाटकों से लेकर ऐक्शन थ्रिलर जैसी शैलियों में 75 हिन्दी फ़िल्मों में अभिनय किया है।फिल्म उद्योग में उनके योगदान के लिये उन्होंने तीस नामांकनों में से चौदह फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार जीते हैं। वे और दिलीप कुमार ही ऐसे दो अभिनेता हैं जिन्होंने साथ फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार आठ बार जीता है। 2005 में भारत सरकार ने उन्हें भारतीय सिनेमा के प्रति उनके योगदान के लिए पद्म श्री से सम्मानित किया।

शाहरुख खान का जीवन परिचय | Shah Rukh Khan Biography In Hindi

अर्थशास्त्र में उपाधी ग्रहण करने के बाद इन्होने अपने करियर की शुरुआत १९८० में रंगमंचों व कई टेलिविज़न धारावाहिकों से की और १९९२ में व्यापारिक दृष्टी से सफल फ़िल्म दीवाना से फ़िल्म क्षेत्र में कदम रखा। इस फ़िल्म के लिए उन्हें फ़िल्मफ़ेयर प्रथम अभिनय पुरस्कार प्रदान किया गया। इसके पश्च्यात उन्होंने कई फ़िल्मों में नकारात्मक भूमिकाएं अदा की जिनमे डर (१९९३), बाज़ीगर (१९९३) और अंजाम (१९९४) शामिल है। वे कई प्रकार की भूमिकाओं में दिखे व भिन्न-भिन्न प्रकार की फ़िल्मों में कार्य किया जिनमे रोमांस फ़िल्में, हास्य फ़िल्में, खेल फ़िल्में व ऐतिहासिक ड्रामा शामिल है।

प्रारंभिक जीवन एवं शिक्षा for Reeten soni

Shah Rukh Khan के माता पिता पठान मूल के थे| उनके पिता ताज मोहम्मद ख़ान एक स्वतंत्रता सेनानी थे और उनकी माँ लतीफ़ा फ़ातिमा मेजर जनरल शाहनवाज़ ख़ान की पुत्री थी|

ख़ान के पिता हिंदुस्तान के विभाजन से पहले पेशावर के किस्सा कहानी बाज़ार से दिल्ली आए थे, हालांकि उनकी माँ रावलपिंडी से आयीं थी|Shah Rukh Khan  की एक बहन भी हैं जिनका नाम है शहनाज़ और जिन्हें प्यार से लालारुख बुलाते हैं|Shah Rukh Khan  ने अपनी स्कूली पढ़ाई दिल्ली के सेंट कोलम्बा स्कूल से की जहाँ वह क्रीड़ा क्षेत्र, शैक्षिक जीवन और नाट्य कला में निपुण थे| स्कूल की तरफ़ से उन्हें “स्वोर्ड ऑफ़ ऑनर” से नवाज़ा गया जो प्रत्येक वर्ष सबसे काबिल और होनहार विद्यार्थी एवं खिलाड़ी को दिया जाता था| इसके उपरांत उन्होंने हंसराज कॉलेज से अर्थशास्त्र की डिग्री एवं जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन की मास्टर्स डिग्री हासिल की|

दिल्ली में पले-बढ़े Shah Rukh Khan की ख्वाहिश थी कि वह एक्टर के तौर पर मशहूर हों। यही सोचकर उन्होंने दिल्ली में बैरी जॉन से अभिनय का प्रशिक्षण लिया। पहले नाटक और फिर सीरियल से होते हुए वह मुंबई पहुंचे। फौजी और सर्कस जैसे धारावाहिकों के बाद सन् 1992 में उनकी पांच फिल्में एक साथ रिलीज हुई और वह स्टार बन गए। उन्हें पहली कामयाबी दीवाना में मिली और फिर यश चोपड़ा के निर्देशन में आई डर और अबबास-मस्तान की बाजीगर ने उन्हें स्थापित कर दिया। इन दोनों ही फिल्मों में वह एंटी हीरो थे, सन् 1995 में आई दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे ने उन्हें सुपरस्टार का दर्जा दिया। दस साल हो गए, मगर Shah Rukh Khan की लोकप्रियता तक कोई नया स्टार नहीं पहुंच सका है।

Shah Rukh Khan ने फिल्मों का निर्माण भी किया। उन्होंने सन् 2000 में जूही चावला और अजीज मिर्जा के साथ मिलकर फिर भी दिल है हिंदुस्तानी फिल्म बनायी। इसमें वह हीरो भी थे, मगर फिल्म नहीं चली। उनकी अगली फिल्म अशोक भी असफल रही। निर्माता के तौर पर मैं हूं ना ने उन्हें भारी लाभ दिया। 2005 में प्रदर्शित पहेली को दर्शकों की मिश्रित प्रतिक्रिया मिली।

घोर आत्मकेंद्रित Shah Rukh Khan ने स्टारडम की नयी परिभाषा गढ़ी। फिल्म इंडस्ट्री के बाहर से आए वह आखिरी स्टार हैं। लोकप्रियता और स्टारडम के साथ उनका दायरा सीमित होता चला गया है। अब वह कुछ ही निर्माता-निर्देशकों की फिल्मों में काम करते हैं। अपने कैरिअर को लेकर सुरक्षित और सचेत Shah Rukh Khan ने अभिनय में अधिक प्रयोग नहीं किए। उनकी यादगार फिल्मों की संख्या भी कम है।

नामांकन और पुरस्कार

  1. 2011 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – माई नेम इज़ ख़ान
  2. 2007 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – चक दे! इंडिया
  3. 2005 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – स्वदेश
  4. 2003 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – देवदास
  5. 1999 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – कुछ कुछ होता है
  6. 1998 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – दिल तो पागल है
  7. 1996 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे
  8. 1994 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार – बाज़ीगर

 

Shah Rukh Khan फिल्मोग्राफी

वर्ष फिल्म किरदार

 

वर्षफ़िल्मचरित्रटिप्पणी
1992दीवानाराजा सहाई
चमत्कारसुंदर श्रीवास्तव
राजू बन गया जेंटलमैनराजू (राज माथुर)
दिल आशना हैकरण
1993माया मेमसाबललित
किंग अन्कलअनिल
बाज़ीगरअजय शर्मा/विकी मल्होत्रा
डरराहुल मेहरा
1994कभी हाँ कभी नासुनील
अंजामविजय अग्निहोत्री
1995दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगेराज मलहोत्रा
ओह डार्लिंग ! ये है इंडियाहीरो
रामजानेरामजाने
त्रिमूर्तिरोमी सिंह
करण अर्जुनअर्जुन
ज़माना दीवानाराहुल मल्होत्रा
गुड्डूगुड्डू बहादुर
1997दिल तो पागल हैराहुल
परदेशअर्जुन सागर
1998कुछ कुछ होता हैराहुल खन्ना
दिल सेअमरकांत वर्मा
2000मोहब्बतेंराज आर्यन
2001अशोकाअशोक
कभी खुशी कभी ग़मराहुल रायचंद
2002देवदासदेवदास मुखर्जी
2003कल हो ना होअमन माथुर
चलते चलतेराज माथुर
2004स्वदेशमोहन भार्गव
वीर जारावीर प्रताप सिह
मैं हूँ नाराम शर्मा
2005पहेलीकिशनलाल
2006कभी अलविदा ना कहनादेव सरन
डॉनविजय, डॉन
2007चक दे इन्डियाकबीर खान
ओम शान्ति ओमओम प्रकाश माखीजा, ओम कपूर
2008रब ने बना दी जोडीसुरिन्दर साहनी, राज
2009बिल्लूसुपरस्टार साहिर खान
लक बाय चांस
2010दूल्हा मिल गयापवन राज गाँधी
माई नेम इज़ ख़ानरिज़वान ख़ान
2011रा.वनजी.वन
डॉन २डॉन
2012जब तक है जानसमर आनंद
2013चेन्नई एक्सप्रेस (२०१३ फ़िल्म)राहुल
2014हैप्पी न्यू ईयरचार्ली
2015दिलवालेकाली
2016फैनआर्यान खन्ना/गौरव छाब्रा
2017डियर जिन्दगी
2017रईस (चलचित्र)

 

 

 

 

 

Check Also

एस. एच. रज़ा की जीवनी - S. H. Raza Biography in Hindi

एस. एच. रज़ा की जीवनी – S. H. Raza Biography in Hindi

Sayed Haider “S. H.” Raza was an Indian painter चित्रकार who lived and worked in France …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close