सुभाष चंद्रा की जीवनी – Subhash Chandra Biography in Hindi

उद्योगपति सुभाष चंद्रा की जीवनी – Subhash Chandra Biography

 

डॉ सुभाष चंद्रा जन्म : 30 नवंबर, 1950, हिसार, हरियाणा

डॉ सुभाष चंद्रा व्यवसाय/कार्य/पद : चेयरमैन ऑफ एस्सेल गु्रप

डॉ सुभाष चंद्रा, जी इंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड के अध्यक्ष और एस्सेल समूह कंपनियों के प्रमोटर, (Zee Entertainment Enterprises, Siti Cable, Indian Cricket League, Essel Propack, Essel Vision Productions) भारत के प्रमुख उद्योगपतियों में से एक हैं।

subhash-chandra-pic
सुभाष चंद्रा की जीवनी – Subhash Chandra Biography in Hindi

Subhash Chandra ने लगातार नए व्यवसायों की पहचान कर और उन्हें सफल बनाकर अपनी कुशलता और क्षमता का प्रदर्शन किया है। आज उनका ज़ी एंटरटेनमेंट ZEE Channel , लगभग 70 चैनलों के मध्यम से दुनिया के 167 देशों countries के कुल 73 करोड़ दर्शकों तक पहुँचता है।

 

Read Also successful peoples Life Story

सुभाष चंद्रा की जीवनी – Subhash Chandra Biography in Hindi

प्रारंभिक जीवन

Subhash Chandra का जन्म हरियाणा के हिसार Hisar जिले में 30 नवंबर 1950 को हुआ था। Subhash Chandra को बचपन से ही पढ़ाई में कोई रूचि नहीं थी और कक्षा 12 के बाद ही उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी। व्यवसायी कुल में पैदा होने के कारण उन्हें शुरू से ही अपना व्यवसाय Business स्थापित करने का नशा था।

कैरियर

Subhash Chandra मात्र 19 साल की उम्र में उन्होंने वेजिटेबल ऑयल बनाने की यूनिट लगाई और कारोबार शुरू किया। इसके बाद वो चावल का व्यापार करने लगे और फिर अनाज एक्सपोर्ट के व्यवसाय में लग गए। वर्ष 1981 में एक पैकेजिंग एग्जिबिशन के दौरान Subhash Chandra को पैकेजिंग कंपनी बनाने का ख्याल आया और फिर क्या था उन्होंने कंपनी बनाई और धीरे-धीरे उनका कारोबार बढ़ता गया। इसके बाद वे अपने जीवन के सबसे सफल – ब्रॉडकास्टिंग के बिजनेस में उतर गए। 2 अक्टूबर,1992 में उन्होंने ZEE TV जी टीवी के नाम से भारत का पहला प्राइवेट सेटेलाइट चैनल शुरू किया। इसके बाद ज़ी समूह Zee Group ने एक के बाद एक कई चैनेल शुरू किये।

Zee TV  के शुभारंभ के बाद उन्होंने वर्ष 1995 में ‘सिटीकेबल’ शुरू किया और फिर दो नए चैनल, जी न्यूज और ज़ी सिनेमा, का शुभारंभ 1995 में न्यूज कॉर्प के साथ मिलकर कर दिया। वर्ष 2000 में ज़ी टीवी केबल(ZEE TV CABEL) के माध्यम से इंटरनेट कनेक्शन देने वाली पहली केबल कंपनी बन गयी। ज़ी टीवी वर्ष 2003 में सॅटॅलाइट के माध्यम से ‘डायरेक्ट टू होम’ (DTH) सेवा देने वाली पहली कंपनी बन गयी।

Subhash Chandra के प्रमुख व्यवसाय इस प्रकार से हैं: टेलीविजन नेटवर्क (जी), एक समाचार पत्र श्रृंखला (डीएनए), केबल सिस्टम (वायर एंड वायरलेस लिमिटेड), डायरेक्ट-टू-होम (डिश टीवी), उपग्रह संचार (Agrani और Procall), थीम पार्क (एस्सेल वर्ल्ड और वाटर किंगडम), ऑनलाइन गेमिंग (प्लेविन), शिक्षा (ज़ी लर्न), फ्लेक्सिबल पैकेजिंग (एस्सेल प्रोपैक), बुनियादी ढांचे के विकास (एस्सेल इन्फ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड) और परिवार के मनोरंजन केंद्र (फन सिनेमाज)।

आज Subhash Chandra देश के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक हैं, लेकिन जिस समाज से उन्हें इतना कुछ मिला उसके लिए बहुत कार्य भी करते हैं। वर्ष 1996 में चंद्रा ने मल्टीमीडिया तालीम ( ट्रांसनेशनल अल्टेरनेटे लर्निंग फॉर एमैन्सिपेसन एंड एम्पावरमेंट थ्रू मल्टीमीडिया ) की स्थापना की। इसका उद्देश्य ओपन लर्निंग के माध्यम से अच्छी शिक्षा उपलब्ध कराना है। चंद्रा ग्लोब विपाश्ना फाउंडेशन के प्रेसिडेंट भी हैं। वे भारत में एकल विद्यालय फाउंडेशन के चेयरमैन भी हैं – यह एक धर्मार्थ संस्थान है, जो भारत में एकल विद्यालय का संचालन करता है। इसका उद्देश्य भारत के ग्रामीण और आदिवासी इलाके  शिक्षा का प्रचार प्रसार करना है। इसके माध्यम से लगभग 40000 गावों के 11 लाख से भी ज्यादा आदिवासी छात्रों को मुफ्त शिक्षा दी जाती है। Subhash Chandraअंतरराष्ट्रीय फाउंडेशन सिविलाइज्ड हारमोनी के संस्थापक चेयरमैन हैं।

अभी हाल के समय ने ज़ी समूह ने ‘ज़िन्दगी’ नाम का एक नया चैनल शुरू किया है जो मुख्यतः पाकिस्तान में प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों/सीरियल आदि है। इसके अलावा ZEE ने जनवरी 2015 में एक नया मनोरंजन चैनल  &टीवी शुरू किया। ग्रुप के वैलनेस चैनल (वेरिआ) को ‘ज़ी लिविंग’ का नाम दिया गया है। वर्ष 2000 तक ZEE TV समूह का लक्ष्य लगभग 100 करोड़ दर्शकों तक पहुंचना है। सुभाष संपूर्ण भारत में 50000 से ऊपर ATMs खोलने का विचार भी बना रहे हैं।

सुभाष चंद्रा जीवनी
डॉ सुभाष चंद्रा शो-Dr Subhash Chandra Show: Mantra for success
dr subhash chandra books in hindi
सुभाष चंद्रा राज्यसभा
डॉ सुभाष चंद्रा बुक्स इन हिंदी

Did you like this post on “सुभाष चंद्रा की जीवनी – Subhash Chandra Biography in Hindi

” Please share your comments.

Like US on Facebook

यदि आपके पास Hindi में कोई articles,motivational story, business idea,Shayari,anmol vachan,hindi biography जीवनी या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:[email protected].पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे.

Read Also Hindi Biorgaphy Collection

Read Also Hindi Quotes collection

Read Also Hindi Shayaris Collection

Read Also Hindi Stories Collection

Read Also Whatsapp Status Collection In Hindi 

Thanks!

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here