टीवी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography in Hindi

उद्योगपति टी वी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography 

जीवनी -Mohandas-Pai-Biography t.v. mohandas pai - yourstory Mohandas Pai - टीवी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography in Hindi
टीवी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography in Hindi

जन्म:1959

व्यवसाय/कार्य/पद: चार्टर्ड अकाउंटेंट, infosys के पूर्व सीएफओ, मनिपाल ग्लोबल एजुकेशन के अध्यक्ष

टी वी मोहनदास पई T.V. Mohandas Pai जानी-मानी आइटी कंपनी infosys के पूर्व सीएफओ और वर्तमान में मनीपाल ग्लोबल एजुकेशन के अध्यक्ष हैं। पेशे से एक CA चार्टर्ड अकाउंटेंट, टीवी मोहनदास पई वर्ष 1994 में infosys में शामिल हुए थे। वो infosys के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स के सदस्य थे। इसके अलवा वो infosys के कई और दूसरे विभागों के अध्यक्ष भी थे जिसमे वित्त और मानव संसाधन विभाग प्रमुख थे। वो वर्ष 1994 से 2006 तक मुख्य वित्त अधिकारी रहे और उसके बाद शिक्षा, अनुसन्धान और मानव विकास संसाधन कार्यों की अगुआई की। इन्फोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) के तौर पर उन्होंने कंपनी को दुनिया के सबसे सम्मानित और लोकप्रिय सॉफ्टवेयर सेवा कंपनी बनाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने कंपनी के लिए भारत की पहली व्यापक रूप से स्पष्ट वित्तीय रणनीति तैयार की। निवेशकों के बीच कंपनी का प्रचार-प्रसार और पारदर्शिता लाने में भी उन्होंने अहम् भूमिका निभाई। उनके निर्देशन में बनी ‘ इंफोसिस वार्षिक रिपोर्ट’ ने लगातार चार्टर्ड एकाउंटेंट्स संस्थान से और लेखाकारों के दक्षिण एशियाई महासंघ से भी सर्वोच्च पुरस्कार प्राप्त किया।

टीवी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography in Hindi

प्रारंभिक जीवन

टीवी मोहनदास पई ने बंगलौर के सेंट जोसेफ कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से वाणिज्य में स्नातक की पढ़ाई पूरी की और फिर बंगलौर विश्वविद्यालय से कानून में स्नातक की उपाधि प्राप्त की। वो इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंट्स ऑफ़ इंडिया (आईसीएआ) के सदस्य भी हैं।

कैरियर

T.V. Mohandas Pai ने अपने कैरियर की शुरुआत बैंगलोर स्थित एक ट्रांसपोर्ट कंपनी, ‘प्रकाश रोडलाइन्स’ के साथ की। उसके बाद वो 1994 में infosys में शामिल हो गए। T.V. Mohandas Pai के infosys में शामिल होने की कहानी बड़ी दिलचस्प है। दरअसल,एक मित्र के कहने पर वो 1994 में infosys के एजीएम में भाग लेने पहुँच गए और वहां जाकर कंपनी के उच्च अधिकारियों से कंपनी के बारे में कई सवाल पूछे। इसके बाद infosys के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति ने नंदन निलेकनी को उनसे बात करने के लिए कहा। वो1994में infosysमें शामिल हो गए और लम्बे समय तक बोर्ड के सदस्य रहे। 1994 में वे इन्फोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी बने और 2006 तक इस पद पर बने रहे। वर्ष 2006 में सीएफओ का पद छोड़कर वो कंपनी के अन्य विभाग जैसे शिक्षा,अनुसन्धान और मानव विकास संसाधन के विकास में लग गए। अमेरिका के NASDAQ पर infosys की लिस्टिंग में उन्होंने अहम् भूमिका निभाई। दिसंबर 2010 के बाद से उन्होंने पूर्णकालिक अध्यक्ष के रूप में आईसीडीएस लिमिटेड की सेवा की। वो भारत सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा गठित केलकर समिति के सदस्य भी थे। इस समिति को प्रत्यक्ष करों के पुनर्गठन के लिए बनाया गया था। वे SEBI के बोर्ड के सदस्य भी हैं।  17 वर्ष की लम्बी सेवा के बाद वर्ष 2011 में उन्होंने infosys से त्यागपत्र दे दिया। इन्फोसिस के विकास में उन्होंने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वो केंद्र और राज्य सरकारों के साथ मिलकर शिक्षा, सूचना प्रौद्योगिकी और व्यवसाय के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। वो शिक्षा का स्तर और कार्य कुशलता बढ़ाने के दिशा में भी कार्य कर रहे हैं। देश में साक्षरता बढ़ाने के दिशा में भी उन्होंने बहुत कार्य किया है। वर्ष 2000 में उन्होंने अक्षय पत्र फाउंडेशन की स्थापना बैंगलोर में की जिसका उद्देश्य स्कूल जाने वाले छात्रों में दोपहर का भोजन उपलब्ध कराना है।

पई अंतर्राष्ट्रीय लेखा मानक समिति फाउंडेशन, जो अंतर्राष्ट्रीय लेखा मानक बोर्ड का पर्यवेक्षण करता है, में एक कोष प्रबंधक भी हैं।

पई CSIR-tech प्राइवेट लिमिटेड के बोर्ड के सदस्य भी हैं। वर्ष 2014 में उन्हें‘अक्षय पत्र फाउंडेशन’ बोर्ड का अतिरिक्त निदेसक चुना गया।

पुरस्कार और सम्मान

T.V. Mohandas Pai को आईएमए इंडिया द्वारा वर्ष 2001 में ‘सीएफओ ऑफ़ द इयर’ के लिए नामांकित किया गया

उन्हें फाइनेंस एशिया द्वारा वर्ष 2002 में ‘भारत के सर्वश्रेष्ठ सीएफओ’ का पुरस्कार दिया गया

वर्ष 2004 में एशिया मनी द्वारा निर्देशित सर्वेक्षण में उन्हें सर्वश्रेष्ठ प्रबंधित कंपनियों में ‘बेस्ट सीएफओ इन इंडिया’ का सम्मान दिया गया।

टाइमलाइन (जीवन घटनाक्रम)

1959: T.V. Mohandas Pai का जन्म हुआ

1994: इन्फोसिस में शामिल हुए

1996: इन्फोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी बन गए

2001: सीएफओ ऑफ़ द इयर के लिए नामित किया

2002: फाइनेंस एशिया द्वारा वर्ष 2002 में ‘भारत के सर्वश्रेष्ठ सीएफओ’ का पुरस्कार

2004: एशिया मनी द्वारा ‘बेस्ट सीएफओ इन इंडिया’ का सम्मान

2011: मोहनदास ने infosys से त्यागपत्र दे दिया

Did you like this Amazing india Facts on “

टीवी मोहनदास पई की जीवनी – T.V. Mohandas Pai Biography in Hindi

” Please share your comments.

Like US on Facebook

यदि आपके पास Hindi में कोई articles,motivational story, business idea,Shayari,anmol vachan,hindi Famous Peoples Biography In Hindi, प्रसिद्ध लोगों की जीवनी या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:[email protected].पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे.

Read Also Hindi Biorgaphy Collection

Read Also Hindi Quotes collection

Read Also Hindi Shayaris Collection

Read Also Hindi Stories Collection

Read Also Whatsapp Status Collection In Hindi 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here